logo
Home Literature Short Stories Vujood
product-img product-img
Vujood
Enjoying reading this book?

Vujood

by Rajesh Reddy
4.9
4.9 out of 5

publisher
Creators
Author Rajesh Reddy
Publisher Vani Prakashan
Synopsis आज के ग़ज़लकारों में राजेश रेड्डी का नाम सबसे अलग पड़ता है क्योंकि ग़ज़लें देखनी पड़ती हैं। ग़ज़लों और ग़ज़लकारों की जैसी जरख़ेज़ फ़सल लहलहा रही है, उसमें हम किसी ग़ज़लकार के बारे में इससे बड़ी बात क्या कह सकते हैं। ‘वजूद’ उनकी ग़ज़लों का तीसरा संग्रह है। इस अन्तराल में राजेश पहले से ज़्यादा आत्मविश्वासी हुए हैं और शब्दों और परिस्थितियों के अन्तःसम्बन्धों को पकड़ते वक़्त उन्हें थोड़ी भी हिचक नहीं होती है। राजेश बला के ख़ामोश ग़ज़लगो हैं। वे बमुश्किल ही मुँह खोलते हैं। जितना और जो भी कहना होता है, ग़ज़ल को ही सौंप देते हैं।

Enjoying reading this book?
HardBack ₹250
PaperBack ₹125
Print Books
About the author
Specifications
  • Language: Hindi
  • Publisher: Vani Prakashan
  • Pages: 134
  • Binding: HardBack
  • ISBN: 9789350007358
  • Category: Short Stories
  • Related Category: Novella
Share this book Twitter Facebook
Related Videos
Mr.


Suggested Reads
Suggested Reads
Books from this publisher
Parinde by Jogender Paul
Desh Ke Shubhchintak Vyangya-1 by Narendra Kohli
Nagarjun:Ek Lambi Jirhe by Vishnu Chandra Sharma
Chal Khusaro Ghar Aapne by Vibha Rani
Yalgar by Sharankumar Limbale
Vigyan Nai Chunotiyan by D.V Bhattacharya
Books from this publisher
Related Books
Aasakti Se Virakti Tak Odia Mahabharat Ki Chuninda Kahaniyan Ankita Pandey
Aasakti Se Virakti Tak Odia Mahabharat Ki Chuninda Kahaniyan Ankita Pandey
Parantha Breakup Kshama Sharma
Parantha Breakup Kshama Sharma
Brahmarakshas Surajpal Chauhan
Marusthal Tatha Anya Kahaniyan Jaishankar
Related Books
Bookshelves
Stay Connected