logo
Home Literature Poetry AhadnamaEMohabbat
product-img product-img
AhadnamaEMohabbat
Enjoying reading this book?

AhadnamaEMohabbat

by Saeed Ahmed
4.7
4.7 out of 5

publisher
Creators
Author Saeed Ahmed
Publisher Vani Prakashan
Translator Mirza A. B. Baig
Synopsis सईद अहमद ने दिलीप कुमार की ख़िदमत में अपना प्रेम प्रस्तुत करने का यह दिलचस्प अन्दाज अपनाया है कि उन्होंने उनकी कई फिल्मों को ‘सिल्वर स्क्रीन‘ की बजाय कागजों पर उतारा, जिनमें दिलीप कुमार ने अपनी आश्चर्यचकित कर देने वाली अदाकारी के जौहर दिखाये हैं। इस पुस्तक में उन संवादों और गीतों के वे शब्द तक मौजूद हैं जिनमें दिलीप कुमार ने अपने सर्वश्रेष्ठ होने का खूबसूरत इज़हार किया है। हर पटकथा कुछ ऐसे सलीके से पेश की गयी है कि वह साहित्यिक धरोहर कहलाने की हकदार हैं। कहानी पर गम्भीरता से समीक्षा की गयी है। और यूँ दिलीप कुमार की अदाकारी के अलावा फिल्म के निदेशक, कहानीकार व संवाद लेखन को लेखक ने खुलकर सराहा है। मेरी राय में फिल्म के किसी अदाकार बल्कि खुद फिल्म के फन की इतनी मालूमात बढ़ाने वाली और गहरी समीक्षा इससे पहले नहीं हुई। सईद अहमद की समीक्षा रचनात्मक फन के करीब जा पहुँची है। फिल्मी शौक रखने वाला इनसान दिलीप कुमार की भरपूर अदाकारी और जनता के प्रति उनसे प्यार को महसूस करता है कि यह शख़्स तो अपनी जिश्न्दगी ही में लिजेण्ड बन चुका है मगर इस व्यक्तित्व के अलावा उसके साथ जुड़ी बातों को भी बराबर की अहमियत देकर सईद अहमद ने हकीक़त और इन्साफ की एक मिसाल कायम कर दी है।

Enjoying reading this book?
HardBack ₹450
PaperBack ₹225
Print Books
About the author
Specifications
  • Language: Hindi
  • Publisher: Vani Prakashan
  • Pages: 280
  • Binding: HardBack
  • ISBN: 9789350004838
  • Category: Poetry
  • Related Category: Literature
Share this book
Suggested Reads
Suggested Reads
Books from this publisher
Brand Modi Ka Tilism Badlav Ki Banagi by Dharmendra Kumar Singh
Manak Hindi Vyakaran by Dr. Shashi Shekhar Tiwari
Ramvilas Sharma Ka Lokpaksha by Vishnuchandra Sharma
Gujrat Ke Nath by K. M. Munshi
GadhyaYaatraa by Dr.Shriram Sharma
Hindi Sahitya Ka Itihas by Ramchandra Shukla
Books from this publisher
Related Books
Ishq Musaafir Tanveer Ghazi
Azadee Ke Pahale Azadee Ke Baad Inder Bahadur Khare
Sham Hone Wali Hai Shahryar
Yah Aakanksha Samay Nahin Gagan Gill
Jalte Hue Van Ka Vasant Dushyant Kumar
Kirishnadharma Main Prabha Khetan
Related Books
Bookshelves
Stay Connected