logo
Home Literature Classics & Literary Triveni
product-img
Triveni
Enjoying reading this book?

Triveni

by Vijaydan Detha
4.6
4.6 out of 5
Creators
Author Vijaydan Detha
Publisher BHARATIYA GYANPITH,NEW DELHI
Synopsis राजस्थानी और हिन्दी के शीर्षस्थ कथाकार विजयदान देथा (बिज्जी) की तीन उपन्यासिकाओं 'तीडाराव’, 'इस्टूखाँ’ और 'भगवान की मौत’ के नायकों का अपूर्व संग्रह है—त्रिवेणी। बिज्जी की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि वे लोककथा की आत्मा को जीवित रखते हुए कहानी या उपन्यास के माध्यम से कथानक का सृजन इस तरह करते हैं कि बुद्धिजीवी ही नहीं, आम पाठक भी उसका आनन्द उठा सकता है। लोक कथाओं को आधुनिकता देने की विलक्षण प्रतिभा बिज्जी के पास है। इन तीन कथाओं का विन्यास उन्होंने अत्यन्त कुशलता से किया है कि वे तीन कथानक भी हैं और व्यक्तित्व के तीन रूप भी। ये अत्यन्त रोचक और मार्मिक कहानियाँ हैं जो बिज्जी की कलात्मक तूलिका से विविध रंग-रूप लेती हैं। इतना ही नहीं, ये ऐसी कहानियाँ हैं जो बिना बोझिल हुए जीवन के लिए रोचक ढंग से अनुपम शिक्षा देती हैं। आशा है, विजयदान देथा की यह मार्मिक, सुन्दर लोककथा-त्रयी 'त्रिवेणी’ हिन्दी के सुहृदय के सुहृदय पाठकों को आकर्षित करेगी।

Enjoying reading this book?
Binding: Paperback
About the author
Specifications
  • Language: Hindi
  • Publisher: BHARATIYA GYANPITH,NEW DELHI
  • Pages: 292
  • Binding: Paperback
  • ISBN: 8126311487
  • Category: Classics & Literary
  • Related Category: Classics
Share this book Twitter Facebook


Suggested Reads
Suggested Reads
Books from this publisher
IDGAH by PREMCHAND
KAHTE HAIN TAB SHAHANSHAH SO RAHE THE by UMA SHANKAR CHAUDHRY
GURIYA KA GHAR by JILANI BANO
ADIBHUMI by PRATIBHA RAI
SHABD-B.TRIPATHI by BASANT TRIPATHI
MAREN TO UMRA BHAR KE LIYE by ASHUTOSH
Books from this publisher
Related Books
DASI KI DASTAN VIJAYDAN DETHA
UJALE KE MUSAHIB VIJAYDAN DETHA
SAPANPRIYA VIJAYDAN DETHA
CHAUDHRAYIEN KI CHATURAI VIJAYDAN DETHA
Teen Sau Tees Kahavati Kahaniyan Vijaydan Detha
Chhabbees Kahaniyan Vijaydan Detha
Related Books
Bookshelves
Stay Connected