logo
Home Nonfiction History Usne Gandhi Ko Kyon Mara
product-img
Usne Gandhi Ko Kyon Mara
Enjoying reading this book?
Recommended by 6 Readers.

Usne Gandhi Ko Kyon Mara

by Ashok Kumar Pandey
4.4
4.4 out of 5

publisher
Creators
Publisher Rajkamal Prakashan
Synopsis यह किताब आज़ादी की लड़ाई में विकसित हुये अहिंसा और हिंसा के दर्शनों के बीच कशमकश की सामाजिक-राजनैतिक वजहों की तलाश करते हुए उन कारणों को सामने लाती है जो गांधी की हत्या के ज़िम्मेदार बने। साथ ही, गांधी हत्या को सही ठहराने वाले आरोपों की तह में जाकर उनकी तथ्यपरक पड़ताल करते हुए न केवल उस गहरी साज़िश के अनछुए पहलुओं का पर्दाफ़ाश करती है बल्कि उस वैचारिक षड्यंत्र को भी खोलकर रख देती है जो अंतत: गांधी हत्या का कारण बना। • यह किताब जहाँ एक तरफ़ गांधी पर अफ़्रीका में हुए पहले हमले से लेकर गोडसे द्वारा उनकी हत्या के बीच गांधी के पूरे राजनैतिक जीवन में उन पक्षों पर विस्तार से बात करती है जिनकी वजह से दक्षिणपंथी ताक़तें उनके ख़िलाफ़ हुईं तो दूसरी तरफ़ उन पर हुए हर हमले और अंत में हुई हत्या की साज़िशों का पर्दाफ़ाश करती है। दस्तावेज़ों की व्यापक पड़ताल से यह उन व्यक्तियों और समूहों के साथ-साथ उन कारणों को स्पष्ट रूप से सामने लाती है जिनकी वजह से गांधी की हत्या हुई। • यह किताब एक तरफ़ राष्ट्रीय मुक्ति आन्दोलन और उसमें गांधी की भूमिका दर्ज करती है तो दूसरी तरफ़ गांधी की पूरी वैचारिक यात्रा की पड़ताल करती है। • यह किताब दक्षिणपंथ के गांधी के ख़िलाफ़ होने के कारणों, कांग्रेस के भीतर के अंतर्विरोधों और विभाजन की प्रक्रिया सामने लाती है। इसके अलावा एक पूरा खंड गोडसे द्वारा अदालत में गांधी पर लगाए गए आरोपों के बिंदुवार जवाब का है। • इस किताब को पढ़ते हुए हिंदी का पाठक एक ही किताब में गांधी के दर्शन, उनकी वैचारिक यात्रा और उनकी हत्या की साज़िश के राजनीतिक कारणों से परिचित हो सकेगा।


Enjoying reading this book?
Recommended by 6 Readers.
Binding: Paperback
About the author अशोक कुमार पांडेय का जन्म 24 जनवरी, 1975 को पूर्वी उत्तर प्रदेश के मऊ ज़िले के सुग्गी चौरी गाँव में हुआ। आप गोरखपुर विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में परास्नातक हैं। कविता, कहानी और अन्य कई विधाओं में लेखन के साथ-साथ अनुवाद कार्य भी करते हैं। कथेतर विधा में इनकी पहली शोधपरक पुस्तक 'कश्मीरनामा' बहुत चर्चा में रही। कश्मीर के इतिहास और समकाल के विशेषज्ञ के रूप में इनकी एक सशक्त पहचान है। २०२० में अशोक जी की दो किताबें 'कश्मीर और कश्मीरी पंडित' और उसने गाँधी को क्यों मारा राजकमल प्रकाशन द्वारा प्रकाशित हुई हैं और दोनों ही किताबों को पाठकों ने हाथिओं हाथ लिया है।
Specifications
  • Language: Hindi
  • Publisher: Rajkamal Prakashan
  • Pages: 280
  • Binding: Paperback
  • ISBN: 9789389598650
  • Category: History
  • Related Category: Historical
Share this book Twitter Facebook
Related articles
Related articles
Related Videos


Suggested Reads
Suggested Reads
Books from this publisher
Pariyon Ke Beech by Ruth Vanita
Birbal Ki Kahiniyan by Ashok Maheshwari
Mera Ujar Pados by Dinesh Jugran
Meri Jindagi Men Chekhov by Lydia Evilov
Poos Ki Raat by Premchand
Humsafaron Ke Darmiyan by Shamim Hanfi
Books from this publisher
Related Books
Azadi Ka Andolan Aur Bhartiya Muslim Ashok Kumar Pandey
Maans Prem aur Swapn Ashok Kumar Pandey
Uttarakhand: Sampurna Adhyayan Ashok Kumar Pandey
Aaina Dar Aaina Ashok Kumar Pandey
Usne Gandhi Ko Kyon Mara Ashok Kumar Pandey
Kashmir Aur Kashmiri Pandit : Basne Aur Bikharne Ke 1500 Saal Ashok Kumar Pandey
Related Books
Bookshelves
Stay Connected