logo
Home Literature Novel Apaar khushi Ka Gharana
product-img
Apaar khushi Ka Gharana
Enjoying reading this book?

Apaar khushi Ka Gharana

by Arundhati Roy
4.5
4.5 out of 5

publisher
Creators
Author Arundhati Roy
Publisher Rajkamal Prakashan
Synopsis ‘अपार ख़ुशी का घराना’ हमें कई वर्षों की यात्रा पर ले जाता है. यह एक ऐसी कहानी है जो वर्षों पुरानी दिल्ली की तंग बस्तियों से खुलती हुई फलते-फूलते नए महानगर और उससे दूर कश्मीर की वादियों और मध्य भारत के जंगलों तक जा पहुँचती है, जहां युद्ध ही शान्ति है और शान्ति ही युद्ध है., और जहां बीच-बीच में हालात सामान्य होने का एलान होता रहता है. अंजुम, जो पहले आफ़ताब थी, शहर के एक क़ब्रिस्तान में अपना तार-तार कालीन बिछाती है और उसे अपना घर कहती है. एक आधी रात को फुटपाथ पर कूड़े के हिंडोले में अचानक एक बच्ची प्रकट होती है. रहस्मय एस. तिलोत्तमा उससे प्रेम करनेवाले तीन पुरुषों के जीवन में जितनी उपस्थित है उतनी ही अनुपस्थित रहती है. ‘अपार ख़ुशी का घराना’ एक साथ दुखती हुई प्रेम-कथा और असंदिग्ध प्रतिरोध की अभिव्यक्ति है. उसे फुसफुसाहटों में, चीख़ों में, आँसुओं के ज़रिये और कभी-कभी हँसी-मज़ाक़ के साथ कहा गया है. उसके नायक वे लोग हैं जिन्हें उस दुनिया ने तोड़ डाला है जिसमें वे रहते हैं और फिर प्रेम और उम्मीद के बल पर बचे हुए रहते हैं. इसी वजह से वे जितने इस्पाती हैं उतने ही भंगुर भी, और वे कभी आत्म-समर्पण नहीं करते. यह सम्मोहक, शानदार किताब नए अंदाज़ में फिर से बताती है कि एक उपन्यास क्या कर सकता है और क्या हो सकता है. अरुंधति रॉय की कहानी-कला का करिश्मा इसके हर पन्ने पर दर्ज है.

Enjoying reading this book?
PaperBack ₹399
HardBack ₹995
Print Books
Digital Books
About the author Arundhati Roy is an Indian writer who is also an activist who focuses on issues related to social justice and economic inequality. She won the Booker Prize in 1997 for her novel, The God of Small Things, and has also written two screenplays and several collections of essays. For her work as an activist she received the Cultural Freedom Prize awarded by the Lannan Foundation in 2002.
Specifications
  • Language: Hindi
  • Publisher: Rajkamal Prakashan
  • Pages: 432
  • Binding: PaperBack
  • ISBN: 9789388753586
  • Category: Novel
  • Related Category: Modern & Contemporary
Share this book Twitter Facebook
Related articles
Related articles
Related Videos


Suggested Reads
Suggested Reads
Books from this publisher
Upanyas Ki Sanrachana by Gopal Ray
Jinna : Ek Punardrishti by Virendra Kumar Baranwal
Angad Ka Paon by Shrilal Shukla
Bhoole Bisre Chitra by Bhagwaticharan Verma
Apani Sharton Per by Sharad Pawar
Sath Sath by Namvar Singh
Books from this publisher
Related Books
Ek Tha Doctor Ek Tha Sant Arundhati Roy
Ek Tha Doctor Ek Tha Sant Arundhati Roy
Apaar Khushi Ka Gharana Arundhati Roy
NAV SAMRAJYA KE NAYE KISSE ARUNDHATI ROY
13 December: Bhartiya Sansad Par Hamle Ka Ajjibogarib Mamla ARUNDHATI ROY
Nyay Ka Ganit Arundhati Roy
Related Books
Bookshelves
Stay Connected