logo
Home Literature Drama Panchtantra
product-img product-img
Panchtantra
Enjoying reading this book?

Panchtantra

by Daya Prakash Sinha
4.8
4.8 out of 5

publisher
Creators
Author Daya Prakash Sinha
Publisher Vani Prakashan
Synopsis संस्कृत नीतिकथाओं में पंचतंत्र का पहला स्थान माना जाता है। यद्यपि यह पुस्तक अपने मूल रुप में नहीं रह गयी है, फिर भी उपलब्ध अनुवादों के आधार पर इसकी रचना तीसरी शताब्दी ईसा पूर्व[1] के आस- पास निर्धारित की गई है। मनोविज्ञान, व्यवहारिकता तथा राजकाज के सिद्धांतों से परिचित कराती ये कहानियाँ सभी विषयों को बड़े ही रोचक तरीके से सामने रखती है तथा साथ ही साथ एक सीख देने की कोशिश करती है।पंचतंत्र की कई कहानियों में मनुष्य-पात्रों के अलावा कई बार पशु-पक्षियों को भी कथा का पात्र बनाया गया है तथा उनसे कई शिक्षाप्रद बातें कहलवाने की कोशिश की गई है।पंचतन्त्र की कहानियां बहुत जीवंत हैं। इनमे लोकव्यवहार को बहुत सरल तरीके से समझाया गया है। बहुत से लोग इस पुस्तक को नेतृत्व क्षमता विकसित करने का एक सशक्त माध्यम मानते हैं। इस पुस्तक की महत्ता इसी से प्रतिपादित होती हती है कि इसका अनुवाद विश्व की लगभग हर भाषा में हो चुका है।

Enjoying reading this book?
PaperBack ₹60
Print Books
About the author
Specifications
  • Language: Hindi
  • Publisher: Vani Prakashan
  • Pages: 44
  • Binding: PaperBack
  • ISBN: 9789350728819
  • Category: Drama
  • Related Category: Drama & Theatre
Share this book Twitter Facebook


Suggested Reads
Suggested Reads
Books from this publisher
Lallan Miss by Rama Pandey
Shafali Jhar Rahi Hai by Vidya Niwas Mishra
Mamta Kaaliya Ki Kahaniyan 2 (1 to 2 set) by Mamta Kaaliya
Bhartiya Bhasha Vigyan by Aacharya Kishoridas Vajpayee
Urdu Sahitya Kosh by Kamal Naseem
Aadhunik Prabandhkavya Samvedana Ke Dharatal by Dr.Vinod Godre
Books from this publisher
Related Books
Katha Ek Kans Ki Daya Prakash Sinha
Itihas Daya Prakash Sinha
Katha Ek Kans Ki Daya Prakash Sinha
Saadar Aapka Daya Prakash Sinha
Oh America ! Daya Prakash Sinha
Seeriyaa Daya Prakash Sinha
Related Books
Bookshelves
Stay Connected