logo
Home Literature Sci-fi Meri Nayi Duniya
product-img
Meri Nayi Duniya
Enjoying reading this book?

Meri Nayi Duniya

by GYANENDRA PRATAP SINGH
4.7
4.7 out of 5
Creators
Author GYANENDRA PRATAP SINGH
Publisher Rigi Publication
Synopsis प्रकृति ने इस मानव सभ्यता के विकास से पहले इस पृथ्वी पर वह सब कुछ भर दिया जिसकी उसे आवश्यकता थी।उसने स्त्री पुरुष में वह प्रेम रूपी तत्व डाला जिसका इतिहास बना। उस इतिहास को लोग पढ़-पढ़ कर आज भी आँसू बहाते हैं।चाहे राधा कृष्ण का अगाध प्रेम हो या लैला मजनू की बेइनि्तहाँ मोहब्बत। पर 21वीं सदी का मनुष्य उस प्रेम का दुश्मन बन गया था।जिसे वह जवानी में युवक युवतियों के बहक जाने की संज्ञा देने लगा।जिसमें भारत की रैक शायद प्रथम ही थी।यहाँ लड़के लड़कियों को प्रेम करने की आजादी नहीं थी।यहाँ शादी में वर चुनने का अधिकार माँ बाप के अधिकार क्षेत्र में आता था।जिसमें लड़कों को थोड़ी बहुत छूट मिल भी जाती पर लड़कियों की क्या दशा थी उसका कहना ही क्या? जिसमें दिशा के साथ-साथ काफी लंबा चौड़ा सौदा किया जाता और लड़कियों को भेड़ बकरियों की तरह पर पुरुष के हवाले कर दिया जाता था।जिसे उसने न कभी देखा और न कभी समझा कि वह उसे जीवन भर खुश रखेगा या तरह-तरह की यातनाएँ देगा।यदि भूलवश वह प्रेम भी कर बैठते तो उन्हें ऑनर किलिंग जैसे घोर अपराध का सामना करना पड़ता या स्वयं ही रेल की पटरी या किसी वृक्ष की डाली का सहारा लेना पड़ता।क्योंकि प्रेमियों के लिए ऐसा कोई स्थान नहीं छोड़ा जाता जहाँ वह अपना आशियाना बसा सके। वाह! रे मनुष्य क्या इसीलिए प्रकृति ने इस प्रेम तत्व की रचना की थी।और यही प्रेम करने की भूल “मेरी नई दुनियाँ” नामक पुस्तक में शायद मुरली और सोना ने कर दी थी। लेकिन उन दोनों ने न रेल की पटरी का सहारा लिया और न ही लटकने के लिए किसी वृक्ष की डाली का सहारा लिया।उन दोनों ने मिलकर एक ऐसा यान तैयार किया जिस पर बैठकर वे दोनों इस पृथ्वी के क्रूर, बेरहम ,बेदर्द मानवों को छोड़कर अंतरिक्ष में चले गए।और जीवित किसी के हाथ नहीं आए । आगे उनके साथ क्या हुआ जिसे आप “मेरी नई दुनिया” नामक पुस्तक को पढ़कर जान सकते हैं।लेखक ने इस पुस्तक में प्रेम की शक्ति का वर्णन बड़े ही मार्मिक ढंग से किया है। जो आगे चलकर इस आधुनिक युग के मानवों के लिए प्रेरणा स्रोत साबित होगी।

Enjoying reading this book?
Paperback ₹120
Print Books
About the author
Specifications
  • Language: Hindi
  • Publisher: Rigi Publication
  • Pages: 80
  • Binding: Paperback
  • ISBN: 9789389540741
  • Category: Sci-fi
  • Related Category: Adventure
Share this book Twitter Facebook


Suggested Reads
Suggested Reads
Books from this publisher
BROTH-BLOOD-ER by Pratahari (Pratik Bhat)
JORA AUR JUHU by Seenu Kumari
Rigi Miracle Vol. 1 English Version by umesh sehgal
Bharat Prem by Shri Chinmayanand Bapu
Shrimad Bhagwat Darshan by Shri Chinmayanand Bapu
BIBIDH RONGER JEEVAN by Hassan Nurul
Books from this publisher
Related Books
Tourism Geography Dr. Manoj Trivedi
Confidence Ka Dose Peeyush Agarwal
Reservation In Heaven Satyendra Kumar Garg
Mrigtrishna Chandramaouli Rai
Meri Gullak Manmohan Krishan Goyal
Ek Ghoont Jindagi Prabhu Dayal Mandhaiya Vikal
Related Books
Bookshelves
Stay Connected