logo
Home Literature Novella Jangli Kabootar
product-img
Jangli Kabootar
Enjoying reading this book?

Jangli Kabootar

by Ismat Chughtai
4.2
4.2 out of 5

publisher
Creators
Publisher Vani Prakashan
Synopsis

Enjoying reading this book?
HardBack ₹125
PaperBack ₹60
Print Books
About the author इस्मत चुग़ताई (जन्म: 21 अगस्त 1915-निधन: 24 अक्टूबर 1991) उर्दू साहित्य की सर्वाधिक विवादास्पद और सर्वप्रमुख लेखिका थीं, उन्हें ‘इस्मत आपा’ के नाम से भी जाना जाता है। उन्होंने आज से करीब 70 साल पहले पुरुष प्रधान समाज में स्त्रियों के मुद्दों को स्त्रियों के नजरिए से कहीं चुटीले और कहीं संजीदा ढंग से पेश करने का जोखिम उठाया। उनके अफसानों में औरत अपने अस्तित्व की लड़ाई से जुड़े मुद्दे उठाती है। साहित्य तथा समाज में चल रहे स्त्री विमर्श को उन्होंने आज से 70 साल पहले ही प्रमुखता दी थी। इससे पता चलता है कि उनकी सोच अपने समय से कितनी आगे थी। उन्होंने अपनी कहानियों में स्त्री चरित्रों को बेहद संजीदगी से उभारा और इसी कारण उनके पात्र जिंदगी के बेहद करीब नजर आते हैं।
Specifications
  • Language: Hindi
  • Publisher: Vani Prakashan
  • Pages: 88
  • Binding: HardBack
  • ISBN: 9789350003314
  • Category: Novella
  • Related Category: Short Stories
Share this book Twitter Facebook


Suggested Reads
Suggested Reads
Books from this publisher
Pratirodh by Shailendra Sagar
Apney AageAage by Jyotasna Milan
Apni Apni Bimari by Harishankar Parsai
Hindi : Ek Maulik Vyakaran by Rama Kant Agnihotri
Hindu Mithak: Aadhunik Man by Shambhunath
Apni Keval Dhar by Arun Kamal
Books from this publisher
Related Books
FASADI Ismat Chughtai
Adhi Aurat Adha Khwab Ismat Chughtai
Lihaaf Ismat Chughtai
Kagaji Hai Pairahan Ismat Chughtai
Tedhi Lakeer Ismat Chughtai
Pratinidhi Kahaniyan : Ismat Chugtai Ismat Chughtai
Related Books
Bookshelves
Stay Connected