logo
Home Reference Women Apna Ek Kamra
product-img product-img
Apna Ek Kamra
Enjoying reading this book?

Apna Ek Kamra

by Virginia Woolf
4.8
4.8 out of 5

publisher
Creators
Publisher Vani Prakashan
Synopsis अपना एक कमरा, स्त्री-विमर्श की एक अत्यंत महत्त्वपूर्ण रचना है। स्त्रियों के हित में स्वतंत्र जीवन की प्रबल पक्षधर और ध्वजवाहक वर्जीनिया वुल्फ़ ने इस पुस्तक में स्त्रीवादी चिंतन को केंद्र में रखते हुए लैंगिक विषमता और विडम्बना पर सटीक टिप्पणी की है। एक विस्तारित लेख के रूप में प्रस्तुत यह पुस्तक वस्तुत: उन व्याख्यानों पर आधारित है जो वर्जीनिया वुल्फ़ ने केम्ब्रिज विश्वविद्यालय के दो महिला कॉलिजों में अक्टूबर 1928 में दिए थे। मूलत: `स्त्रियाँ और कथा साहित्य` पर दिए गए इन व्याख्यानों में वर्जीनिया वुल्फ़ ने कथा साहित्य की लेखक और कथा साहित्य की पात्र, दोनों ही रूपों में स्त्री की स्थिति का विशद विवेचन और विश्लेषण किया है।

Enjoying reading this book?
PaperBack ₹195
HardBack ₹295
Print Books
About the author The most famous member of the Bloomsbury Group, Virginia Woolf (1882–1941) was a novelist, essayist and critic. Her writing established her as one of Modernism’s leading exponents, as well as a pioneering feminist. Her most famous works include To the Lighthouse, Orlando and Mrs Dalloway.
Specifications
  • Language: Hindi
  • Publisher: Vani Prakashan
  • Pages: 160
  • Binding: PaperBack
  • ISBN: 9789352292110
  • Category: Women
  • Related Category: Family & Relationship
Share this book


Suggested Reads
Suggested Reads
Books from this publisher
Meerabai Aur Bhakti Ki Aadhyatmik Arthaneeti by Kumkum Sangari
Too Samajh Gayee Naa! by Ashok Chakradhar
Nayee Sadi Kee Kavita by Ganesh Pandey
Beera by Dr.Ramesh Pokhriyal 'Nishank '
Chingariyan by Madhu Dhawan
Shikhandi by Narendra Kohli
Books from this publisher
Related Books
Stri Ki Nazar Mein Reetikal Mukesh Garg
Patansheel Patniyon Ke Notes Neelima Chauhan
Stree-Prashn Namita Singh
Stree-Prashn Namita Singh
Patansheel Patniyon Ke Notes Neelima Chauhan
Afro-American Sahitya : Stri Swar Vijay Sharma
Related Books
Bookshelves
Stay Connected