logo
Home Literature Short Stories Adhi Aurat Adha Khwab
product-img product-img
Adhi Aurat Adha Khwab
Enjoying reading this book?

Adhi Aurat Adha Khwab

by Ismat Chughtai
4.7
4.7 out of 5

publisher
Creators
Publisher Vani Prakashan
Synopsis इस पुस्तक में लेखिका ने अपनी कहानियों के माध्यम से स्त्री के जीवन की ऐसे पक्ष को सामने रखा है जो आमतोर पर अनछुआ ही रह जाता है। इस किताब में औरत के जीवन की सारी विडंबनाओं से पर्दा उठाया गया है। नौ कहानियों के माध्यम से लेखिका ने महिला के तमाम संघर्षों को पाठक के सामने रखा है।

Enjoying reading this book?
PaperBack ₹175
HardBack ₹250
Print Books
Digital Books
About the author इस्मत चुग़ताई (जन्म: 21 अगस्त 1915-निधन: 24 अक्टूबर 1991) उर्दू साहित्य की सर्वाधिक विवादास्पद और सर्वप्रमुख लेखिका थीं, उन्हें ‘इस्मत आपा’ के नाम से भी जाना जाता है। उन्होंने आज से करीब 70 साल पहले पुरुष प्रधान समाज में स्त्रियों के मुद्दों को स्त्रियों के नजरिए से कहीं चुटीले और कहीं संजीदा ढंग से पेश करने का जोखिम उठाया। उनके अफसानों में औरत अपने अस्तित्व की लड़ाई से जुड़े मुद्दे उठाती है। साहित्य तथा समाज में चल रहे स्त्री विमर्श को उन्होंने आज से 70 साल पहले ही प्रमुखता दी थी। इससे पता चलता है कि उनकी सोच अपने समय से कितनी आगे थी। उन्होंने अपनी कहानियों में स्त्री चरित्रों को बेहद संजीदगी से उभारा और इसी कारण उनके पात्र जिंदगी के बेहद करीब नजर आते हैं।
Specifications
  • Language: Hindi
  • Publisher: Vani Prakashan
  • Pages: 136
  • Binding: PaperBack
  • ISBN: 9789352291045
  • Category: Short Stories
  • Related Category: Novella
Share this book Twitter Facebook
Related Videos
Mr.


Suggested Reads
Suggested Reads
Books from this publisher
Prarambhik Computer Shiksha (1 ) by Ram Bansal 'Vigyacharya
Urdu Par Khulta Daricha by Gopi Chand Narang
Ganga Tat Dekha by Sunita Jain
Premchand : Ek Punarmoolyankan by Edited by Dr. Nagratna N. Rao
Ismrati Ganga by Sudhakar Panday
Aganhindola by Ushakiran Khan
Books from this publisher
Related Books
FASADI Ismat Chughtai
Adhi Aurat Adha Khwab Ismat Chughtai
Lihaaf Ismat Chughtai
Kagaji Hai Pairahan Ismat Chughtai
Tedhi Lakeer Ismat Chughtai
Pratinidhi Kahaniyan : Ismat Chugtai Ismat Chughtai
Related Books
Bookshelves
Stay Connected