logo
Home Literature Poetry Aawaz Chali Aati Hai
product-img product-img
Aawaz Chali Aati Hai
Enjoying reading this book?

Aawaz Chali Aati Hai

by Shaz Tamakanat
4.3
4.3 out of 5

publisher
Creators
Author Shaz Tamakanat
Publisher Vani Prakashan
Editor Shashi Narayan Swadheel
Synopsis ‘आवाज़ चली आती है’ दखन के सुप्रसिद्ध शायर शाज़ तमकनत का काव्य संग्रह है। इस संग्रह में उनकी प्रतिनिधि ग़ज़लों और नज़्मों का चुनाव किया गया है। आधुनिक उर्दू कविता में शाज़ तमकनत अपने समय के सुप्रसिद्ध कवियों में स्वयं को दर्ज करवाते हैं। दखन के नामी-गिरामी शायरों में शाज़ का शुमार होता है। पारम्परिक और आधुनिक कविता के बीच जिस सेतु का निर्माण शाज़ तमकनत ने किया वह स्वयं में एक युग की स्वीकृति लिये हुए है। इनकी ग़ज़लों और नज़्मों में जहाँ निजी ज़िन्दगी के दुख-दर्द दिखाई देते हैं वहीं उनका दुख सार्वजनीन आत्मचेतना के रूप में अनुभव किया जा सकता है। यहीं ग़मे जानां और ग़मे दौरा दोनों का संगम शाज़ के रचना संसार की पहचान बनकर उभरता है और 21वीं सदी में उर्दू साहित्य के जरिये शायरी के क्षेत्र में एक आवाज़ चली आती है।

Enjoying reading this book?
HardBack ₹275
PaperBack ₹125
Print Books
About the author
Specifications
  • Language: Hindi
  • Publisher: Vani Prakashan
  • Pages: 182
  • Binding: HardBack
  • ISBN: 9789350001769
  • Category: Poetry
  • Related Category: Literature
Share this book Twitter Facebook
Related Videos
Mr.


Suggested Reads
Suggested Reads
Books from this publisher
Sant Shiromani Raidas : Vani Aur Vichar by Dr. N. Singh
Patton Par Paazeb by Avnish Kumar
Asmitamoolak Vimarsh Aur Hindi Sahitya by Dr. Rajat Rani 'Meenu'
Tumhare Liye Har Bar… by Pratibha Shatpathi
Vagdevi Ki Ghar Wapasi by Rameshchandra Shah
Nirbandh : Mahasamar8 by Narendra Kohli
Books from this publisher
Related Books
Machhliyan Gayengi Ek Din Pandumgeet Poonam Vasam
Sambhal Bhi Na Paoge Surajpal Chauhan
Hindustan Sabka Hai Uday Pratap Singh
Chand Pe Chai Rajesh Tailang
Pratinidhi Kavitayen Kalicharan Snehi
Hanste Rahe Hum Udas Hokar Kishwar Naheed
Related Books
Bookshelves
Stay Connected