logo
Nagarjun नागार्जुन (30 जून 1911-5 नवंबर 1998 हिन्दी और मैथिली के अप्रतिम लेखक और कवि थे। उनका असली नाम वैद्यनाथ मिश्र था परंतु हिन्दी साहित्य में उन्होंने नागार्जुन तथा मैथिली में यात्री उपनाम से रचनाएँ कीं। इनके पिता श्री गोकुल मिश्र तरउनी गांव के एक किसान थे और खेती के अलावा पुरोहिती आदि के सिलसिले में आस-पास के इलाकों में आया-जाया करते थे। उनके साथ-साथ नागार्जुन भी बचपन से ही “यात्री” हो गए। आरंभिक शिक्षा प्राचीन पद्धति से संस्कृत में हुई किन्तु आगे स्वाध्याय पद्धति से ही शिक्षा बढ़ी। राहुल सांकृत्यायन के “संयुक्त निकाय” का अनुवाद पढ़कर वैद्यनाथ की इच्छा हुई कि यह ग्रंथ मूल पालि में पढ़ा जाए। इसके लिए वे लंका चले गए जहाँ वे स्वयं पालि पढ़ते थे और मठ के “भिक्खुओं” को संस्कृत पढ़ाते थे। यहाँ उन्होंने बौद्ध धर्म की दीक्षा ले ली। छः से अधिक उपन्यास, एक दर्जन कविता-संग्रह, दो खण्ड काव्य, दो मैथिली; (हिन्दी में भी अनूदित) कविता-संग्रह, एक मैथिली उपन्यास, एक संस्कृत काव्य "धर्मलोक शतकम" तथा संस्कृत से कुछ अनूदित कृतियों के रचयिता नागार्जुन को 1969 में उनके ऐतिहासिक मैथिली रचना पत्रहीन नग्न गाछ के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार से नवाजा गया था। उन्हें साहित्य अकादमी ने १९९४ में साहित्य अकादमी फेलो के रूप में नामांकित कर सम्मानित भी किया था।

image
Aese Bhee Ham Kya Aese Bhee Tum Kya by Nagarjun ₹125
image
Bhool Jao Purane Sapne by Nagarjun ₹65
image
Main Military Ka Budha Ghoda by Nagarjun ₹200
image
Maryada Purushottam by Nagarjun ₹225
image
Tumne Kaha Tha by Nagarjun ₹150
image
Vidyapati Ke Geet by Nagarjun ₹300
image
Vidyapati Ki Kahaniyan by Nagarjun ₹100
image
Purani Jutiyon Ka Koras by Nagarjun ₹200
image
Ratinath Ki Chachi by Nagarjun ₹60
image
Abhinandan by Nagarjun ₹75
image
Balchanma by Nagarjun ₹100
image
Balchanma by Nagarjun ₹150
image
Vidyapati Ke Geet by Nagarjun ₹100
image
Vidyapati Ki Kahaniyan by Nagarjun ₹95
image
Pratinidhi Kavitayen : Nagarjun by Nagarjun ₹75
image
Bhoomija by Nagarjun ₹75
image
Nagarjun Rachanawali : Vols.-1-7 by Nagarjun ₹5500
image
Nagarjun Rachanawali : Vols.-1-7 by Nagarjun ₹2100
image
Varun Ke Bete by Nagarjun ₹75
image
Balchanama by Nagarjun ₹125
image
Baba Batesarnath by Nagarjun ₹350
image
Ugratara by Nagarjun ₹125
image
Kumbhipak by Nagarjun ₹150
image
Nai Paudh by Nagarjun ₹395
image
Nai Paudh by Nagarjun ₹125
image
Paka Hai Yah Kathal by Nagarjun ₹350
image
Ratinath Ki Chachi by Nagarjun ₹150
image
Dukhmochan by Nagarjun ₹125
image
Jamaniya Ka Baba by Nagarjun ₹55
image
Mere Saakshatkaar : Nagarjun by Nagarjun ₹300
Bookshelves