logo
Manisha kulashreshta हिन्दी साहित्य जगत की जानी मानी लेखिका मनीषा कुलश्रेष्ठ को लेखन के प्रति रुचि अपनी मां से विरासत में मिली. मनीषा का जन्म 26 अगस्त, 1967 को जोधपुर, राजस्थान में हुआ. विज्ञान से स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद इन्होंने स्नातकोत्तर और एमफिल हिन्दी साहित्य से किया। प्रकाशित कृतियाँ: कठपुतलियाँ, कुछ भी तो रूमानी नहीं, केयर ऑफ स्वात घाटी, गन्धर्व-गाथा, बौनी होती परछाईं, रंग रूप रास गंध शिगाफ, शालभंजिका, मल्लिका, किरदार, होना अतिथि कैलाश का कृष्णा सोबती को अपना आदर्श मानने वाली मनीषा जी पिछले १० वर्षों से इंटरनेट की पहली हिंदी वेब पत्रिका हिंदीनेस्ट का सम्पादन कर रही हैं ।

image
Anama by Manisha kulashreshta ₹200
image
Shigaf by Manisha kulashreshta ₹300
image
Shigaf by Manisha kulashreshta ₹150
image
Kirdar by Manisha kulashreshta ₹195
image
SHAALBHANJIKA by Manisha kulashreshta ₹180
image
KATHPUTLIYAN by Manisha kulashreshta ₹140
image
Mallika by Manisha Kulashreshta ₹235
image
Gandharva Gatha by Manisha kulashreshta ₹300
image
Panchkanya by Manisha kulashreshta ₹395
image
Rang Roop Ras Gandh (2 Vols.) by Manisha kulashreshta ₹1495
image
Hona Atithi Kailash Ka by Manisha kulashreshta ₹250
image
Kuchh Bhi To Rumani Nahi by MANISHA KULASHRESHTA ₹200
image
Birju Lay by MANISHA KULASHRESHTA ₹175
image
Kuchh Bhi To Rumani Nahi by MANISHA KULASHRESHTA ₹100
Bookshelves